Saturday , May 21 2022
Home / MainSlide / प्याज की कीमतों के आसमान छूने पर मोदी सरकार ने भंडारण सीमा की तय

प्याज की कीमतों के आसमान छूने पर मोदी सरकार ने भंडारण सीमा की तय

नई दिल्ली 23 अक्टूबर।देश में एक बार फिर प्याज की कीमते आसमान छूने लगी है।इसे लेकर चौतरफा आलोचना के बाद चेती मोदी सरकार ने इसके भंडारण की सीमा तय कर दी है।

उपभोक्‍ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय की सचिव ने आज कहा कि आज से 31 दिसम्‍बर तक व्‍यापारियों के लिए प्‍याज के भंडारण की सीमा तय कर दी गई है।उन्होने कहा कि थोक विक्रेता 25 मीट्रिक टन प्‍याज का भंडारण कर सकते है जबकि खुदरा व्‍यापारियों को दो मीट्रिक टन का भंडार रखने की इजाजत होगी।

बढ़ती कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने पिछले महीने की 14 तारीख को प्‍याज के निर्यात पर रोक लगा दी थी, ताकि खरीफ मौसम में नया प्‍याज आने तक घरेलू उपभोक्‍ताओं को इसकी उपलब्‍धता सुनिश्चित की जा सके।

मंत्रालय ने कहा कि प्‍याज की खुदरा कीमतों में कुछ नरमी दिखाई दी थी लेकिन महाराष्‍ट्र, कर्नाटक, आंध्र-प्रदेश और मध्‍य-प्रदेश के प्‍याज उगाने वाले जि़लों में हाल की भारी वर्षा से खरीफ की फसल के खराब होने की आशंकाओं के कारण कीमतों में बढ़ोतरी दिखाई दी है।