Tuesday , May 17 2022
Home / MainSlide / पूर्ववर्ती रमन सरकार नवा रायपुर में सम्पत्ति के कब्जे की नोटिस के लिए जिम्मेदार- अकबर

पूर्ववर्ती रमन सरकार नवा रायपुर में सम्पत्ति के कब्जे की नोटिस के लिए जिम्मेदार- अकबर

रायपुर 18 जनवरी।छत्तीसगढ़ के आवास एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर ने नवा रायपुर, अटल नगर में निर्मित रिटेल काम्पलेक्स के निर्माण के लिए गए ऋण के मामले में बैंक द्वारा कब्जे की नोटिस जारी करने के लिए पूर्ववर्ती रमन सरकार की गलत नीतियों को जिम्मेदार ठहराया हैं।

श्री अकबर ने पूर्व मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह द्वारा इस मसले पर आज किए ट्वीट का जबाव देने के लिए कांग्रेस द्वारा देर शाम आहूत प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि पूर्ववर्ती रमन सरकार के मांग के आकलन एवं सर्वे किए बगैर निवेश करने तथा अत्याधिक लागत में निर्माण कराने के निर्णय के कारण ये स्थिति निर्मित हुई है। उन्होने कहा कि रियल इस्टेट में मंदी होने एवं नवा रायपुर में उक्त दर पर मांग न होने से परियोजना का समय सीमा में विक्रय होना संभव नहीं हो पाया।

उन्होने कहा कि डा.सिंह ने मुख्यमंत्री कार्यकाल में रहते उक्त रिटेल काम्पलेक्स का निर्माण कार्य बिना सोचे समझे, मार्केट में बिना मांग आदि का आकलन किए बहुत अधिक लागत में कराया है। इसके कारण ये स्थिति निर्मित हुई है। उन्होंने कहा कि मांग के अनुरूप निर्माण कार्य कराए होते तो ये नौबत नहीं आती। उक्त भवन का कारपेट एरिया बाजार मूल्य में आसानी से बिक जाता। अधिक लागत में निर्माण कराए जाने से कारपेट एरिया की बिक्री नहीं हो पाई है। कारपेट एरिया बिक गया होता तो ऋण भुगतान हो जाता।