Tuesday , November 30 2021
Home / MainSlide / पुणे घटना के विरोध में दलित संगठनों ने कल किया महाराष्ट्र बन्द आहूत

पुणे घटना के विरोध में दलित संगठनों ने कल किया महाराष्ट्र बन्द आहूत

मुंबई 02 जनवरी। पुणे में भीमा कोरेगांव की लड़ाई की 200वीं सालगिरह मनाने के लिए कल आयोजित कार्यक्रम में हुए टकराव एवं इसमें एक व्यक्ति की मौत के विरोध में एक दर्जन से धिक दलित संगठनों ने जहां कल महाराष्ट्र बन्द आहूत किया है,वहीं मुख्यमंत्री ने पूरी घटना की न्यायिक जांच का ऐलान किया है।

मिली खबरों के अनुसार पुणे में भीमा कोरेगांव की लड़ाई की 200वीं सालगिरह मनाने के लिए एक बड़ा समूह जुलूस की शक्ल में जा रहा था कि रास्ते में उन पर एक दूसरे समूह ने हमला कर उनके वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया।खबरों के अनुसार इस घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई और दो वाहनों को आग लगा दी गई।आक्रामक समूह द्वारा लगभग चार दर्जन अन्य गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की गई।

कल हुई इस घटना की आग आज लगभग पूरे महाराष्ट्र में पहुंच गई।मुंबई में कई जगहों पर पत्थरबाजी की घटना भी हुई है।आत्मदाह की कोशिश कर रहे एक प्रदर्शनकारी को समय रहते बचा लिया गया।हिंसा की वजह से मुंबई के इस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे पर यातायात प्रभावित हुई है, इसके अलावा ट्रेन सेवा भी बाधित हुई है।कई जगहों पर यातायात बुरी तरह से प्रभावित हुआ।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए आज कल हुई घटना की न्यायिक जांच करवाने की घोषणा की।उन्होने कहा कि सिटिंग न्यायधीश से जांच करवाने का वह उच्च न्यायालय से अनुरोध करेंगे।उन्होने मृत व्यक्ति के परिजनों को 10 लाख रूपए का मुआवजा देने तथा मौत की सीआईडी जांच करवाने की घोषणा की।उन्होने कहा कि गाडियों में हुए तोडफोड की भी भरपाई राज्य सरकार करेंगी।

वहीं दलित संगठनों ने पुलिस के रवैये पर कड़ी नाराजगी जताई है और कल घटना के समय उस पर मूकदर्शक बने रहने का आरोप लगाया है।कल 03जनवरी को एक दर्जन से अधिक दलित संगठनों ने महाराष्ट्र बन्द का आह्वान किया है।