Wednesday , January 19 2022
Home / MainSlide / निराश बच्चों को बैट के लिए रूपए देकर रमन ने कर दिया खुश

निराश बच्चों को बैट के लिए रूपए देकर रमन ने कर दिया खुश

कोन्डागांव 18 मार्च।छत्तीसगढ़ के कोन्डागांव जिले के पूसापाल में एक पेड़ की डाल पर बैठे लगभग एक दर्जन बच्चों की उदासी आज उस समय खुशी में बदल गई जब वहां लोक सुराज अभियान में अचानक पहुंचे मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह ने उनके टूटे बैट की जगह पर नया खरीदने के लिए पांच सौ रूपए प्रदान किए।

डा.सिंह अचानक हेलीकाप्टर से आज जब अचानक पुसापाल पहुंचे तो उन्हें गांव के बच्चे इमली के पेड़ पर बैठे मिले।उन्होने बच्चों से बात की और पूछा कि क्या खेलते हो। बच्चो ने बताया कि वो क्रिकेट खेलते है लेकिन उनका बैट टूट गया है। मुख्यमंत्री ने उन्हें बेट खरीदने के लिए 500 रुपये दिये।इसके बाद उन्होने बरगद के पेड़ के नीचे चौपाल लगाकर ग्रमीणों की समस्याओं को सुना।

मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से उतरकर सीधे घासीराम नेताम के घर गए। घासी राम ने अपने एक एकड़ की बाड़ी में मक्के की फसल उगाया है। उन्होंने मुख्यमंत्री को मक्का भूनकर खाने के लिए दिया। घासी राम ने बताया कि उन्हें सरकार से दो साल पहले पम्प मिला है जिससे वह सिचाई करता है। एक एकड़ में लगभग 15 से 20 बोरा मक्का हो जाता है, जिसे वह बाजार में बेचता है।मक्का के साथ ही वह बाड़ी में टमाटर, बैगन और धनिया भी लगया है।

उन्होने पास ही में भूमि समतलीकरण के काम को भी देखा। यंहा राय सिंह नेताम को 2 एकड़ पर वनाधिकार पट्टा मिला है और इसी भूमि के समतलीकरण के लिये 39000 रुपये स्वीकृत किया गया है। रायसिंह का परिवार तेंदूपत्ता भी तोड़ता है।मुख्यमंत्री के पूछने पर रायसिंह की पत्नी ने बताया कि उन्हें बोनस तो मिल गया है लेकिन उसे चरण पादुका नही मिली है।मुख्यमंत्री ने वन विभाग के अधिकारियों से पूछने पर उन्होंने बताया कि आज वितरण करने के लिए लाए है। मुख्यमंत्री ने एक जोड़ी चप्पल मंगाकर खेत मे ही राजवंती नेताम को दिया।

डा.सिंह ने इस मौके पर  पुसापाल में महिला मंगल भवन निर्माण के लिए 5 लाख रूपए, पुसापाल और आश्रित ग्राम कोटवेल में कंक्रीट रोड निर्माण के लिये पांच पांच लाख स्वीकृत किया।उन्होने गांव के राशन दुकान में भी निरीक्षण किया।इस दुकान को गांव की महिला स्व सहायता समूह चलाती है।उनकी मांग पर मुख्यमंत्री ने मिट्टी तेल टैंक की स्वीकृति मौके पर दी।