Thursday , May 26 2022
Home / MainSlide / धान खरीद को लेकर केन्द्र एवं छत्तीसगढ़ सरकार में टकराव

धान खरीद को लेकर केन्द्र एवं छत्तीसगढ़ सरकार में टकराव

रायपुर 30 दिसम्बर।समर्थन मूल्य पर धान खरीद को लेकर छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार एवं केन्द्र की मोदी सरकार के बीच टकराव होने के आसार बढ़ गए है।

राज्य के कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने आज यहां पत्रकारो से यह संकेत देते हुए कहा कि केन्द्र के रवैये से राज्य में धान खरीद को लेकर गंभीर संकट उत्पन्न हो गया है। केन्द्र ने इस खरीद सीजन में 60 लाख मीट्रिक टन चावल खरीद की सहमति दी थी,लेकिन अभी तक भारतीय खाद्य निगम(एफसीआई) ने राज्य से एक किवंटल चावल का भी उठाव नही किया हैं। इससे धान खरीद केन्द्रों पर भारी मात्रा में धान एकत्रित हो गया है। वारदाने की कमी के चलते की जगहों पर धान खरीद प्रभावित हो रही है।

खरीद केन्द्रों से धान का उठाव नही होने एवं उससे खरीद प्रभावित होने से उत्पन्न स्थिति पर विचार के लिए राज्य मंत्रिपरिषद की आज यहां आपात बैठक हुई जिसमें पूरे हालात पर विचार किया गया। इसमें केन्द्र सरकार से एफसीआई को शीघ्र चावल के उठान का निर्देश देने की जहां मांग की गई,वहीं जरूरत पड़ने पर पूरे मंत्रिमंडल के साथ दिल्ली भी कूच करने पर सहमति बनी है।धान खरीद प्रभावित होने के मद्देनजर कल ही किसानों संगठनों के प्रतिनिधियों से मंत्रालय में बैठक करने का भी निर्णय लिया गया है।

कृषि मंत्री श्री चौबे ने कहा कि किसानों के सामने उत्पन्न समस्या पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने खाद्य मंत्री पीयूष गोयल से फोन पर भी बात की है,और पीएमओ के पत्र भी लिखा है।