Wednesday , January 19 2022
Home / MainSlide / देश में कर का दायरा बढ़ाना बड़ी चुनौती- जेटली

देश में कर का दायरा बढ़ाना बड़ी चुनौती- जेटली

नई दिल्ली 02 फरवरी।वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि बजट का उद्देश्य उन क्षेत्रों को मदद देना है, जहां वास्तव में मदद की जरूरत है।

श्री जेटली ने आज यहां कारोबार जगत के प्रमुखों से खुली बातचीत में कहा कि सरकार निर्यात के क्षेत्र में नई ऊर्जा से साथ आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ महीनों में विनिर्माण क्षेत्र में तेजी आई है और बुनियादी ढांचागत क्षेत्र पर ध्यान देने की जरूरत है। वित्त मंत्री ने कहा कि अर्थव्यवस्था का बड़ा हिस्सा सरकार की मदद से और उसके बिना भी अच्छा प्रदर्शन करेगा। लेकिन अर्थव्यवस्था के कुछ क्षेत्रों को भारी मात्रा में सरकार की मदद की जरूरत है।

श्री जेटली ने कहा कि देश में कर का दायरा बढ़ाने और कर अनुपालन की बड़ी चुनौती है।श्री जेटली ने कहा कि दीर्घावधि के पूंजीगत लाभ पर कर कई वर्षों से लंबित था।वित्त मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य देखभाल प्राथमिकता वाला क्षेत्र है और एक अन्य प्राथमिकता किसानों की आमदनी बढ़ाने की है।

उन्होंने कहा कि लोगों को पांच लाख रुपये तक का स्वास्थ्य संबंधी बीमा कवर देने के लिए इस वर्ष पहली अप्रैल से स्वास्थ्य योजना लागू की जाएगी। श्री जेटली ने कहा कि इसमें अस्पताल में भर्ती होने का खर्च और बाद में देखभाल पर होने वाले खर्च शामिल है।न्यूनतम समर्थन मूल्य पर श्री जेटली ने कहा कि इसे तर्कसंगत होना चाहिए। सीमा शुल्क बढ़ाने के बारे में श्री जेटली ने कहा कि देश को सस्ते आयात से खतरा है।