Tuesday , July 5 2022
Home / MainSlide / तमिलनाडु में हवा के कम दबाव ने लिया तूफान का रूप

तमिलनाडु में हवा के कम दबाव ने लिया तूफान का रूप

चेन्नई 30 नवम्बर।तमिलनाडु में कोमोरिन के ऊपर बने हवा के कम दबाव ने आज सुबह तूफान का रूप ले लिया। इसे ओखी नाम दिया गया है।

चक्रवाती तूफान “ओखी” के प्रभाव में विजिनझम के निकट समुद्र में मछुआरों के साथ 6 मछुआरा नौकाओं तथा 1 मैरीन इंजीनियरिंग पोत के लुप्त हो जाने की खबर मिली है।

यह लक्षद्वीप की ओर बढ़ गया है और इस समय कन्याकुमारी से लगभग 60 किलोमीटर दक्षिण में है।मौसम विज्ञानियों के अनुसार 38 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिमोत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहे इस तूफान के और भयंकर रूप लेने की आशंका है।

दक्षिण तमिलनाडु के तुतुकुडि, तिरूनेलवेल्ली और कन्याकुमारी जिलों में कल शाम से भारी बारिश हो रही है। नागरकोइल, तिरूअनंतपुरम खण्ड पर रेल सेवाएं स्थगित कर दी गई हैं। जिलाधिकारी ने लोगों को घर से बाहर न निकलने की सलाह दी है और तटवर्ती इलाकों में रहने वाले लागों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा है।तुतुकोडि़ बंदरगाह पर खतरे का संकेत नम्बर तीन लगा दिया गया है।

चक्रवाती तूफान “ओखी” के प्रभाव में विजिनझम के निकट समुद्र में मछुआरों के साथ 6 मछुआरा नौकाओं तथा 1 मैरीन इंजीनियरिंग पोत के लुप्त हो जाने की खबर मिली है। तिरुवनंतपुरम के जिला कलेक्टर से इनकी खोज एवं राहत के लिए सहायता का आग्रह प्राप्त होने के आधार पर दक्षिणी नौसेना कमान ने भारतीय नौसेना जहाजों शार्दुल, निरीक्षक, काबरा एवं कालपेनी तथा कोच्चि में स्थित दो वायुयानों को तैनात किया है।

ये जहाज और वायुयान इस क्षेत्र में खोज एवं राहत (एसएआर) संचालन का कार्य करेंगे तथा इस तूफान के इस तट से गुजर जाने तक नागरिक प्रशासन की आवश्यकता के अनुसार किसी भी सहायता के लिए समुद्र में इनका संचालन जारी रखेंगे।

दक्षिणी नौसेना कमान किसी भी मानवीय सहायता तथा आपदा राहत (एचएडीआर) के लिए भी तैयार रहेगी जिसकी आवश्यकता केरल के दक्षिणी हिस्से में तूफान के प्रभावों की वजह से पड़ सकती है।