Friday , January 21 2022
Home / MainSlide / छत्तीसगढ़ में अंत्योदय है विकास का मूल मंत्र – रमन

छत्तीसगढ़ में अंत्योदय है विकास का मूल मंत्र – रमन

राजनांदगांव 20अप्रैल।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा हैं कि अत्योदय को ही छत्तीसगढ़ में विकास का आधार बन गया है। इसके तहत समाज के अंतिम व्यक्ति के कल्याण पर जोर दिया जा रहा है।

डा.सिंह आज यहां आयोजित वक्फ कार्यशाला और अल्पसंख्यक सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि इसके तहत समाज के अंतिम व्यक्ति के कल्याण पर जोर दिया जा रहा है। उनकी बेहतर शिक्षा तथा स्वास्थ्य और कौशल विकास के लिए सरकार द्वारा अनेक कार्यक्रम चलाए जा रहे है। जिससे कमजोर तथा पिछड़े सहित समाज के हर वर्ग के लोगों का उत्थान हो।

उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ में हर तरफ विकास की लहर है।यहां विकास ही विकास और शांति के साथ विकास की अच्छी खासियत है। यह विकास राज्य में सामाजिक समरसता, सौहर्द्रता और आपसी भाई चारा से ही फलीभूत हो रहा है। जिसका उदाहरण देश के अन्य राज्यों में भी दिया जाता है। उन्होंने कहा कि यहां सभी समाज के लोग आपस में मिल-जुल कर रहते हैं। इसी सद्भावना तथा आपसी भाईचारा से छत्तीसगढ़ के विकास को और मजबूती मिल रही है।

सम्मेलन को सांसद अभिषेक सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के सरकार द्वारा लोगों की बेहतरी के लिए हर संभव पहल की जा रही है। शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम छोर तक पहुंचाया जा रहा है। इसमें शासन की मंशा है कि विकास से कोई भी वर्ग और समाज अछूता न रहे। सांसद श्री सिंह ने वक्फ संपत्तियों के विकास योजना का उल्लेख किया और मुस्लिम समुदाय के लोगों के हित में इसका बेहतर से बेहतर उपयोग करने के लिए कहा।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ राज्य वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष मो. सलीम अशरफी ने भी सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि वक्फ की खाली पड़ी जमीनों पर अस्पताल, स्कूल भवन, सामुदायिक भवन आदि निर्माण कार्यों के लिए सरकार द्वारा बिना ब्याज की राशि ऋण के रूप स्वीकृत किए जा रहे हैं। इसके तहत वर्तमान में राज्य वक्फ बोर्ड को छह विभिन्न निर्माण कार्यों के लिए तीन करोड़ 48 लाख रूपए की राशि स्वीकृत है।