Saturday , May 28 2022
Home / MainSlide / छत्तीसगढ़ के सात जिलों में कोरोना टीकाकरण का हुआ मॉकड्रिल

छत्तीसगढ़ के सात जिलों में कोरोना टीकाकरण का हुआ मॉकड्रिल

रायपुर 02 जनवरी।छत्तीसगढ़ के सात जिलों में आज कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (मॉकड्रिल) सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ।

प्रदेश के सात जिलों रायपुर, सरगुजा, दुर्ग, बिलासपुर, राजनांदगांव, बस्तर और गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के विभिन्न केंद्रों में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए ड्राई-रन आयोजित किया गया।मॉकड्रिल के लिए अप्वाइंटमेंट के तहत पूर्व से पोर्टल में रजिस्टर्ड 25-25 स्वास्थ्य कर्मियों को टीकाकरण के लिए आज बुलाया गया था। वैक्सीनेशन हेतु निर्धारित सभी सेशन साइट पर पांच वैक्सीनेशन अधिकारी व एक वैक्सीनेटर नियुक्त किए गए थे। इनके द्वारा हितग्राही के आईडी कार्ड, को-विन पोर्टल में नाम, डॉटा मिलान आदि के बाद ही हितग्राही को वैक्सीनेशन कक्ष में भेजा गया जहां  वैक्सीनेटर द्वारा उनका टीकाकरण किया गया।वैक्सीन लगाने के बाद पृथक कक्ष में आधे घंटे तक निगरानी में रखने के बाद उन्हें केन्द्र से जाने दिया गया। निगरानी कक्ष में भी वैक्सिनेशन ऑफ़िसर की ड्यूटी लगायी गयी थी।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला ने रायपुर, दुर्ग एवं राजनांदगांव जिले के वैक्सीनेशन सेशन साईट पहुंचकर ड्राई-रन का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि वैक्सीनेशन स्थल पर जिन्हें टीका लगना है, उनकी पूर्व से पोर्टल में रजिस्टर्ड सूची रहेगी। वैक्सीनेशन के बाद सभी हितग्राहियों को 30 मिनट तक ऑब्ज़र्वेशन रूम में रखा जाएगा। इसके लिए भी प्रोटोकॉल निर्धारित है।इस मॉकड्रिल का उद्देश्य कोल्ड चेन मैनेजमेंट, वैक्सीन की सप्लाई, स्टोरेज और लॉजिस्टिक्स के साथ ही कोरोना वैक्सीनेशन के दौरान किसी आपात स्थिति से निपटने का भी अभ्यास करना था।

स्वास्थ्य मंत्री टी.एस.सिंहदेव ने राजधानी के पुरानी बस्ती स्थित सरस्वती प्राथमिक शाला में ड्राई-रन का निरीक्षण किया। उन्होंने इस दौरान आने वाली समस्याओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने ड्राई-रन में शामिल मितानिनों से भी चर्चा की। श्री सिंहदेव ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को पूरी प्रक्रिया सटीक तरीके से सम्पन्न करने के निर्देश दिए।उन्होंने आज सात जिलों में हुए कोरोना वैक्सीनेशन के मॉकड्रिल पर संतोष जाहिर किया।