Sunday , December 5 2021
Home / MainSlide / छत्तीसगढ़ की सभी 146 जनपद पंचायतें जुड़ गई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग नेटवर्क से

छत्तीसगढ़ की सभी 146 जनपद पंचायतें जुड़ गई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग नेटवर्क से

रायपुर 26 अक्टूबर।छत्तीसगढ़ की सभी 146 जनपद पंचायतें आज से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग नेटवर्क से जुड़ गई।

केन्द्रीय पंचायतीराज एवं ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह की उपस्थिति में निमोरा स्थित ठाकुर प्यारेलाल राज्य पंचायत एवं ग्रामीण विकास संस्थान परिसर स्थित राज्य पंचायत संसाधन केन्द्र में आयोजित कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग नेटवर्क का शुभारंभ किया।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग नेटवर्क की सुविधा जनपद पंचायतों को ग्रामीण विकास के क्षेत्र में प्रशिक्षण देने के उद्देश्य से शुरू की गई है। प्रदेश की सभी जनपद पंचायतों में एक साथ लगभग 14 हजार लोग बैठकर प्रशिक्षण ले सकेंगे। जनपद पंचायत मुख्यालयों में बनाए गए जनपद पंचायत संसाधन केन्द्र भवनों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की सुविधा रहेगी।

केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शुभारंभ समारोह में 20 जनपद पंचायत मानव संसाधन केन्द्रों में उपस्थित पंचायती राज प्रतिनिधियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा कर उन्हें बधाई एवं शुभकामनाएं दी। प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चन्द्राकर इस अवसर पर विशेष रूप से उपस्थित थे।

श्री तोमर ने इस अवसर पर जनपद पंचायत संसाधन केन्द्रों में उपस्थित पंचायती राज प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज हम सबके लिए ऐतिहासिक दिन है। प्रदेश की जनपद पंचायतों के निर्वाचित जनप्रतिनिधि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग नेटवर्क के जरिए सीधे राजधानी से जुड़ गए हैं। श्री तोमर ने कहा कि आमतौर पर पंचायतीराज प्रतिनिधियों और ग्रामीण विकास से जुड़े लोगों को समय-समय पर अनेक स्थानों में प्रशिक्षण देने का काम होते आया है।

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने जनप्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए कहा कि जनपद पंचायतों के प्रतिनिधियों के लिए यह सुविधा बहुत बड़ी उपलब्धि है। इन जनप्रतिनिधियों को अब प्रशिक्षण के लिए कहीं जाना नहीं पड़ेगा। राजधानी रायपुर में बैठकर हम जनपद पंचायतों के प्रतिनिधियों से सुविधाजनक ढंग से बात कर सकते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के सहभागी जनपद पंचायत प्रतिनिधियों के लिए यह बहुत बड़ी सुविधा है।इन प्रतिनिधियों से हम न केवल बातचीत कर सकते हैं, बल्कि उन्हें देख भी सकते हैं।