Friday , December 3 2021
Home / MainSlide / चक्रवाती तूफान ओखी से केरल एवं तमिलनाडु में आठ लोगों की मौत

चक्रवाती तूफान ओखी से केरल एवं तमिलनाडु में आठ लोगों की मौत

चेन्नई/तिरूवंतपुरम 01 दिसम्बर।चक्रवाती तूफान ओखी के कारण तमिलनाडु और केरल में भारी वर्षा से आठ लोगों की मौत हो गई है।तूफान लक्षद्वीप की ओर बढ़ रहा है।

कन्याकुमारी और आसपास के क्षेत्रों में तूफान से तबाही के बाद राहत अभियान चलाया जा रहा है। भारतीय तटरक्षक बल ने लापता मछुआरों की तलाश और बचाव कार्यो के लिए तिरूवंतपुरम और तूतिकोरिन तट पर निगरानी पोत तैनात किए हैं।रक्षा मंत्री निर्मला सीतारामन ने ट्वीट कर बताया कि  नौसेना और तट रक्षक बल के कमांडरों से तलाश और बचाव कार्य में तेजी लाने को कहा गया है।

मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान पिछले छह घंटों में 25 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से दक्षिण पूर्व अरब सागर की ओर मुड़ गया है और तिरूवनंतपुरम से 180 किलोमीटर पश्चिम और मिनिकॉय से 200 किलोमीटर पूर्व में केन्द्रित है। इसके अगले12 घंटों के दौरान तेज चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है। इस असर से दक्षिणी तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप में कुछ स्थानों पर बहुत भारी वर्षा हो सकती है।

मछुआरों को अगले 12 घंटों के दौरान दक्षिणी तमिलनाडु में, अगले 36 घंटों के दौरान केरल में और 48 घंटों के दौरान लक्षद्वीप में समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है।

कन्याकुमारी जिले में पेड़ उखड़ने और बिजली के खंबों को नुकसान की एक हजार से अधिक घटनाएं होने की खबर है। राष्ट्रीय और राज्य आपदा प्रबंधन बल की दो-दो कंपनियां प्रभावित जिलों में पहुंच गयी हैं। जिले की सीमा से लगते त्रिरून्वेली सहित यहां स्कूल और कॉलेज कल भी बंद रहेंगे। त्रिरून्वेली के सर्वालर बांध के जलस्तर में आज 27 फुट वृद्धि दर्ज की गई है। इसी जि़ले के पापनाशम बांध का पानी का स्तर 14 फुट बढ़ा है। दोनों जिलों के कई जलाशयों में वर्षा के कारण पानी लबालब भर गया है।

केरल में वर्षा से जुड़ी घटनाओं में चार लोगों के मारे जाने की खबर है।प्रमुख इलाकों में नियंत्रण कक्ष बनाए गये हैं। नौसेना और तटरक्षक बल की नौकाएं तलाशी और बचाव अभियान में लगायी गई हैं। मछली पकड़ने गये सौ से अधिक मछुआरे अभी भी समुद्र से लौटे नहीं हैं। सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है। कई स्थानों पर तेज हवाओं के कारण बिजली के खंबे उखड़ने से राजधानी में बिजली सप्लाई प्रभावित हुई है। ऊंचे और तटीय इलाकों में चेतावनी जारी की गई है।