Saturday , November 27 2021
Home / छत्तीसगढ़ / कांग्रेस ने की ग्रामीणों पर हुए लाठीचार्ज की न्यायिक जांच की मांग

कांग्रेस ने की ग्रामीणों पर हुए लाठीचार्ज की न्यायिक जांच की मांग

रायपुर 17 अगस्त।छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस ने  दुर्ग जिले के बेरला में पुलिस की लाठीचार्ज की घटना की न्यायिक जांच की मांग की है।

प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल, पूर्व अध्यक्ष एवं विधायक धनेन्द्र साहू, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रविन्द्र चौबे, दुर्ग के सांसद ताम्रध्वज साहू, राज्यसभा सदस्य छाया वर्मा, पूर्व मंत्री मो. अकबर, दुर्ग के विधायक के अरुण वोरा सहित कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारियों सहित हजारों कार्यकर्ता बेरला पहुंचे और ग्रामीणों से मुलाकात करते हुये घटना की जानकारी ली।

कांग्रेस नेताओं को चर्चा के दौरान उपस्थित क्षेत्र के लोगों ने बताया कि थाना प्रभारी के संरक्षण में बलात्कार कांड के प्रमुख अवैध शराब का कारोबार करता है।थानेदार के सामने अभियुक्त द्वारा पीड़ित महिला को एक लाख लेकर मामले को रफा दफा करने का दबाव बनाया गया। अभियुक्त को पुलिस प्रशासन का सरंक्षण मिला हुआ है। बारगांव में महिला के साथ पांच लोगो द्वारा सामूहिक बलात्कार किया गया। उसको डराने के लिए महिला के सामने कुत्ते को काटकर कहा गया कि अगर मुंह खोली तो ऐसा ही तुम्हारा भी अंजाम होगा साथ ही इसके वीडियो ग्राफी भी की गई। गांव वालो द्वारा अभियुक्त को बचाने एवं संरक्षण देने के खिलाफ थाने का घेराव किया गया। पुलिस द्वारा गांव वालो को भगाने के लिये बेवजह लाठीचार्ज किया गया,फलस्वरूप गांव वालो द्वारा भी प्रतिकार किया गया।

कांग्रेस नेताओ ने कहा कि पूरे मामले में पुलिस कि संलिप्तता सामने आई है ,जब पुलिस स्वयं पक्षकार है उसके कारण ही मामला बिगड़ा है ऐसे में पुलिस से किसी भी प्रकार की निष्पक्षता की अपेक्षा बेमानी है। इस कारण घटना की न्यायिक जाँच की जानी चाहिये। घटना का विरोध करने के कारण कांग्रेस के लोगो को चुन-चुनकर पुलिस कार्यवाई कर रही है।