Thursday , December 9 2021
Home / छत्तीसगढ़ / कांग्रेसियों ने अन्ना हजारे को अपील पत्र देकर की आंदोलन की मांग

कांग्रेसियों ने अन्ना हजारे को अपील पत्र देकर की आंदोलन की मांग

रायपुर 04 अक्टूबर।छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे प्रसिद्ध समाज सेवी अन्ना हजारे को यहां के कांग्रेसियों के एक दल ने मिलकर एक ज्ञापन सौंपकर रमन सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए और उनके खिलाफ आन्दोलन करने की अन्ना से मांग की।

जिला शहर कांग्रेस अध्यक्ष विकास उपाध्याय के साथ प्रतिनिधि मंडल ने राज्य की सत्ता में बैठी भाजपा सरकार की 14 साल की कथित विफलताओं की पुलिंदा सौंपा और उनसे आन्दोलन करने की अपील की।राज्य में लोकपाल की स्थापना लोकयुक्त की नियुक्ति,बढ़ते भष्ट्राचार,किसानों की आत्महत्या जैसे गम्भीर मुद्दे पर कांग्रेसियों के अनुसार अन्ना हजारे मौन रहे।

श्री उपाध्याय ने अन्ना के रवैये पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए यहां जारी बयान में कहा कि तीन साल पहले लोकपाल स्थापना की मांग और किसानों की दुर्दशा की बात करने वाले अन्ना हजारे राज्य में 14 साल में 1125 किसानों द्वारा की गई आत्महत्या पर चुप है मंत्रियों के भष्ट्राचार घोटालो पर मौन साध लिए है इससे ऐसा प्रतीत होता है कि तीन साल पहले जो अन्ना आंदोलन कर रहे थे वो देश की जनता को भ्रमित करने कर रहे थे।

उन्होंने अन्ना के मौन पर सवाल उठाते हुए आगे कहा कि क्या अन्ना हजारे भाजपा की बी टीम की तरह ही सरकार को बचाने जनता का ध्यान भटकाने छत्तीसगढ़ आये है।समाजसेवा की आड़ में अन्ना हजारे भाजपा को वोट दिलाते है।उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की जनता ऐसे बहरूपियों को भली भांति पहचानती है और वक्त पर सबक भी सिखाती है।