Sunday , December 5 2021
Home / MainSlide / कर्नाटक में कांग्रेस सरकार की विदाई का आ गया है वक्त- मोदी

कर्नाटक में कांग्रेस सरकार की विदाई का आ गया है वक्त- मोदी

बेंगलूरू 04 फरवरी।प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कांग्रेस पर करारा हमला बोलते हुए उसे जनता के हित की बजाय स्वयं के हित में काम करने तथा केन्द्र द्वारा दिए गए पैसे का सही उपयोग नही करने का आरोप लगाया है।

श्री मोदी ने कर्नाटक में भाजपा के चुनाव प्रचार अभियान को गति देते हुए कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस सरकार पर फूट डालो और राज करो, भ्रष्‍टाचार और अपराध पर काबू नहीं कर पाने का आरोप लगाया।राज्‍य सरकार पर केन्‍द्रीय अनुदान का उचित इस्‍तेमाल नहीं करने का आरोप लगाते हुए श्री मोदी ने कहा कि स्‍वच्‍छ भारत मिशन के तहत कर्नाटक ने 70 करोड़ रूपये का इस्‍तेमाल नहीं किया।

उन्होने कहा कि मौजूदा आम बजट किसानों के लिए है और यह मध्‍य वर्ग के हित में है।उन्‍होंने कहा कि कृषि उपज का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य बढ़ाने, कृषि उपज खरीदने वाली  संस्‍थाओं को कर छूट देने, फल-सब्‍जी और फूल के लिए ग्रीन्‍स योजना, ग्रामीण बुनि‍यादी ढ़ांचे के लिए बड़ा आवंटन, कृषि बाजार में सुधार की योजनाओं और अन्‍य आधारभूत ढ़ांचों को विकसित करने से किसानों को लाभ होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि विश्‍व की सबसे बड़ी स्‍वास्‍थ्‍य बीमा योजना आयुष्‍मान भारत से गरीब लोगों का इलाज सुनिश्‍चित होगा। उन्‍होंने कहा कि मुद्रा योजना, कर छूट और मेक इन इंडिया कार्यक्रम के लिए आवंटन बढ़ाने से छोटे उद्योगों को मदद मिलेगी। श्री मोदी ने सबका साथ सबका विकास नारे का उल्‍लेख करते हुए कहा कि सरकार कारोबार के अनु‍कूल माहौल बनाने में विश्‍वास रखती है।

उन्होने कहा कि..यहां कर्नाटक के लोग पिछले साढे चार वर्षों से देख रहे हैं कि कैसे सिर्फ और सिर्फ खुद का हित साधने के लिए यहां पर कांग्रेस ने सरकार चलाई है। यही वजह है कि पिछले तीन साढ़े तीन वर्षों में जो राशि केंद्र के तरफ से कर्नाटक को मिली, उसका भी पूरा लाभ यहां के लोगों तक नहीं पहुंचा है..।

श्री मोदी ने बताया कि केन्‍द्र सरकार ने बेंगलूरू के बाहरी इलाकों में 17 हजार करोड़ रूपये की रेल परियोजना को मंजूरी दी है। उन्‍होंने लोगों से राज्‍य में विकास कार्यों में तेजी लाने के लिए भाजपा को चुनने के लिए कहा।

जनसभा का आयोजन राज्‍यभर में 85 दिन तक चली नव कर्नाटक निर्माण परिवर्तन यात्रा के समापन के अवसर पर किया गया था।