Thursday , December 9 2021
Home / MainSlide / कर्नल संतोष बाबू मरणोपरांत महावीर चक्र से सम्मानित

कर्नल संतोष बाबू मरणोपरांत महावीर चक्र से सम्मानित

नई दिल्ली 23 नवम्बर।राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने लद्दाख में गलवान घाटी में ऑपरेशन स्नो लेपर्ड के दौरान बलिदान देने वाले कर्नल संतोष बाबू को मरणोपरांत महावीर चक्र से सम्मानित किया।

श्री कोविंद ने आज राष्ट्रपति भवन में तीसरे रक्षा अलंकरण समारोह में शत्रु का मुकाबला करते हुए असाधारण वीरता के लिए महावीर चक्र, कर्नल कीकूमाला संतोष बाबू को 16वी बटालियन द बिहार रेजीमेंट, मरणोपरांत।उन्‍होंने शत्रुओं के साथ हुई भीषण मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल होने के बावजूद युद्ध जैसी चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में कर्नल संतोष बाबू ने अद्वितीय साहस एवं अद्भूत संयम के साथ अपनी बटालियन का उत्‍कृष्‍ट नेतृत्‍व किया।उन्‍होंने राष्‍ट्र सेवा में अपने प्राण न्‍यौछावर कर दिए।

सूबेदार संजीव कुमार को जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में ऑपरेशन के लिए मरणोपरांत कीर्ति चक्र से अलंकृत किया गया।शत्रु का मुकाबला करने के सिवाय असाधारण वीरता के लिए कीर्ति चक्र, सूबेदार संजीव कुमार, फोर्थ बटालियन, द पेराशूट रेजीमेंट स्‍पेशल फोर्से, मरणोपरांत सूबेदार संजीव कुमार ने विषम परिस्थितियों में एक खूंखार आतंकवादी को मार गिराने, दो आतंकवादियों को घायल करने एवं अपने घायल सैनिकों को बचाने में असाधारण वीरता, अदम्‍य साहस तथा अनुकरणीय निस्‍वार्थ सेवा भाव का प्रदर्शन किया। भारतीय सेनाओं की सर्वोच्‍च परम्‍पराओं का निर्वाहन करते हुए राष्‍ट्र रक्षा में अपना सर्वोच्‍च बलिदान दिया।

नायब सूबेदार नुदूराम सोरेन, हवलदार के0 पलानी, नायक दीपक सिंह और सिपाही गुरतेज सिंह को गलवान घाटी में उनकी वीरतापूर्ण कार्रवाई के लिए मरणोपरांत वीर चक्र से सम्मानित किया गया।