Thursday , December 2 2021
Home / देश-विदेश / उत्तर प्रदेश में बाढ़ की स्थिति में कोई सुधार नहीं

उत्तर प्रदेश में बाढ़ की स्थिति में कोई सुधार नहीं

लखनऊ 04 सितम्बर।उत्तर प्रदेश में बाढ़ की स्थिति में कोई सुधार नहीं है।राज्य के 24 जिलों के तीन हजार से अधिक गांव अब भी बाढ़ की चपेट में हैं।कुल 28 लाख लोगों पर बाढ़ का असर पड़ा है।

तराई और पूर्वी इलाकों के तीन लाख से ज्यादा लोगों ने राहत कैंपों में शरण ली हैं जहाँ प्रशासन दवाओं के विकरण के साथ टीकाकरण अभियान चला रहा है ताकि किसी महामारी को फैलने से रोका जा सके।सेना के हेलीकॉप्टर तथा एन डी आर एफ और पी ए सी के जवानों की टीमें राहत कार्यों में लगातार जुटी हुईं हैं।

केंद्रीय जल आयोग के अनुसार शारदा नदी बलिया कलां में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। वहीं घाघरा नदी बाराबंकी में ऐलगिन ब्रिज में खतरे के निशान से ऊपर है। राप्ती नदी गोरखपुर में तो वहीं कुआनो नदी गोंडा और गंडक नदी कुशीनगर में खतरे के निशान के करीब बह रही है।नदियों के घटते पानी से कटान का खतरा बढ़ गया है।