Friday , January 28 2022
Home / MainSlide / आयुष्मान भारत योजना में तीन दिन में ही लगभग 725 दावे

आयुष्मान भारत योजना में तीन दिन में ही लगभग 725 दावे

रायपुर 19 सितम्बर।छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की महात्वाकांक्षी योजना आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के पायलट प्रोजेक्ट लागू होने के तीन दिनों में ही लगभग 725 दावे आ गए है।

योजना के तहत शासन द्वारा पंजीकृत अस्पतालों में इलाज के लिए गरीबी रेखा सर्वे सूची में हितग्राही का नाम होने पर पांच लाख रूपये तक कैशलेस उपचार करा सकते हैं।हितग्राही अपना राशन कार्ड, स्मार्ट कार्ड और आधार कार्ड के माध्यम से भी योजना का लाभ ले सकते है। पात्रता के लिए टोल फ्री नंबर 104 पर फोन कर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है। आयुष्मान भारत योजना के बेहतर क्रियान्वयन के लिए  आज प्रोफेसनल्स और अधिकारियों को तकनीकी प्रशिक्षण दिया गया।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियो ने आज यहां बताया कि प्रदेश में 16 सितम्बर से आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के पायलट प्रोजक्ट की शुरूआत की गई। प्रांरभ तिथि को ही देर रात 50 दावे आ गये थे। दूसरे दिन 17 सितम्बर को मरीजों के उपचार के लिए अस्पतालों ने 175 दावे किए।  अब यह संख्या तेजी से बढ़ रही है।

पायलट प्रोजेक्ट लागू होने के तीसरे दिन अनुबंधित अस्पतालों के दावे पहले दिन की तुलना में तीन गुना से भी ज्यादा हो गए। 18 सितम्बर को एक ही दिन में 500 मरीजों के उपचार के लिए अस्पतालों द्वारा दावा किए गए है।

अधिकारियों ने बताया कि योजना में तकनीकी दिक्कतों का समाधान किया  किया जा चुका है। पायलट प्रोजेक्ट राज्य के 425 निजी और 608 शासकीय अस्पतालों में शुरू किया गया हैं। नये अस्पताल संचालकों द्वारा भी योजना में शामिल होने के लिए आवेदन प्रस्तुत कर रहे है।