Wednesday , December 1 2021
Home / MainSlide / आन्ध्र को विशेष दर्जे की मांग को लेकर संसद की कार्यवाही हुई बाधित

आन्ध्र को विशेष दर्जे की मांग को लेकर संसद की कार्यवाही हुई बाधित

नई दिल्ली 08 फरवरी।संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग और अन्‍य मुद्दों पर हंगामें को लेकर बाधित हुई।

लोकसभा की बैठक शुरू होते ही तेलुगुदेशम पार्टी और वाईएसआर के सदस्‍य नारे लगाते हुए सदन के बीचो बीच पहुंच गए।लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने प्रश्‍नकाल जारी रखने का आग्रह किया लेकिन उत्‍तेजित सदस्‍य नहीं माने। हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही पौने बारह बजे तक स्‍थगित कर दी गई।

राज्‍यसभा में भी तेलुगुदेशम पार्टी के सदस्‍यों के हंगामे के कारण सदन की बैठक दो बजे तक के लिए स्‍थगित कर दी गई थी। इन सदस्‍यों ने आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने के लिए केंद्र को 15 दिन का समय दिया है। दोपहर तक स्‍थगन के बाद सदन की बैठक फिर शुरू होने पर समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल ने प्रश्‍नकाल स्‍थगित करके केंद्रीय बजट पर चर्चा की मांग की। सभापति एम वेंकैया नायडू ने इस पर सहमति व्‍यक्‍त की। इस बीच, तेलुगुदेशम पार्टी के कुछ सदस्‍य अपनी मांग के समर्थन में सदन के बीचों बीच आ गये।

इससे पहले कांग्रेस,विशेषकर पार्टी की महिला सदस्‍यों ने राष्‍ट्रपति के अभिभाषण पर धन्‍यवाद प्रस्‍ताव पर चर्चा के जवाब में प्रधानमंत्री की टिप्‍पणी के विरोध में हंगामा किया था।