Friday , December 3 2021
Home / MainSlide / अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने भारत की वृद्धि दर को लगभग आधा प्रतिशत घटाया

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने भारत की वृद्धि दर को लगभग आधा प्रतिशत घटाया

न्यूयार्क/नई दिल्ली 11 अक्टूबर।देश में अर्थव्यवस्था की गति के धीमी होने के पक्ष विपक्ष के आरोपों प्रत्यारोपों के बीच अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने भारत के लिए वित्त वर्ष 2017-18की वृद्धि दर का अनुमान घटा दिया है, लेकिन इसके फिर पटरी पर लौटने की आशा भी व्यक्त की है।

विश्व आर्थिक परिदृश्य पर कल जारी रिपोर्ट में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने 2017 के लिए भारत की वृद्धि दर अपने पहले के अनुमान सात दशमलव दो प्रतिशत से घटाकर छह दशमलव सात प्रतिशत कर दी है। इसमें कहा गया है कि नोटबंदी तथा वस्तु और सेवा कर के कारण इसकी रफ्तार धीमी हुई है।

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने उम्मीद जताई है कि अगले वित्त वर्ष तक  भारत फिर से सबसे तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था बन जायेगा। हालांकि वृद्धि दर सात दशमलव चार प्रतिशत रहने का अनुमान है